ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

अल कादिर ट्रस्ट केस में पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान को हाईकोर्ट से राहत, दो हफ्ते की जमानत मिली

अल-कादिर ट्रस्ट मामले में इमरान की जमानत याचिका पर जस्टिस मियांगुल हसन औरंगजेब और जस्टिस समन रफत इम्तियाज की बेंच सुनवाई कर रही थी.
BQP HindiBQ डेस्क
02:08 PM IST, 12 May 2023BQP Hindi
BQP Hindi
BQP Hindi
Follow us on Google NewsBQP HindiBQP HindiBQP HindiBQP HindiBQP HindiBQP HindiBQP HindiBQP HindiBQP HindiBQP Hindi

अल-कादिर ट्रस्ट केस (Al-Qadir Trust case) में इमरान खान (Imran Khan) को इस्लामाबाद हाईकोर्ट से बड़ी राहत मिल गई है. उन्हें दो हफ्ते के लिए जमानत मिली है. पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान अल-कादिर ट्रस्ट मामले में अग्रिम जमानत के लिए कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच इस्लामाबाद हाई कोर्ट में पेश हुए. इस दौरान कोर्ट परिसर के अंदर और बाहर सैकड़ों हथियारबंद पुलिसकर्मी और अर्धसैनिक बल तैनात थे.

अल-कादिर ट्रस्ट मामले में इमरान की जमानत याचिका पर जस्टिस मियांगुल हसन औरंगजेब और जस्टिस समन रफत इम्तियाज की बेंच सुनवाई कर रही थी.

पाकिस्तान के अखबार, Dawn के मुताबिक इमरान खान की पार्टी, PTI ने उनके खिलाफ सभी मामलों को क्लब करने यानी एक साथ करने का अनुरोध किया था.

क्या है अल-कादिर ट्रस्ट मामला

अल-कादिर ट्रस्ट मामला इमरान खान, उनकी पत्नी बुशरा बीबी और उनकी पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के अन्य नेताओं के खिलाफ अल-कादिर विश्वविद्यालय की स्थापना से जुड़ा है. अल-कादिर ट्रस्ट मामला इमरान सरकार और एक प्रॉपर्टी कारोबारी के बीच कथित समझौते से जुड़ा है, जिससे पाकिस्तान की कमजोर अर्थव्यवस्था को 50 अरब रुपये का नुकसान हुआ.

आपको बता दें कि अल कादिर ट्रस्‍ट में में इमरान खान और उनकी पत्‍नी बुशरा ट्रस्‍टी हैं. इस यूनिवर्सिटी में 6 सालों के दौरान महज 32 ही छात्रों का एडमिशन हुआ है.

BQP Hindi
लेखकBQ डेस्क
BQP Hindi
फॉलो करें
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT