अदाणी ग्रुप ने हिंडनबर्ग रिपोर्ट खारिज की, कहा- FPO को नुकसान पहुंचाने की कोशिश

अदाणी ग्रुप ने कहा कि रिपोर्ट 'चुनिंदा गलत सूचनाओं और बासी, आधारहीन और गलत आरोपों का एक पुलिंदा है.
BQP HindiBQ डेस्क
Last Updated On  25 January 2023, 3:13 PMPublished On   25 January 2023, 3:13 PM
BQP HindiBQP HindiBQP HindiBQP HindiBQP HindiBQP HindiBQP HindiBQP HindiBQP HindiBQP Hindi

अदाणी ग्रुप ने हिंडनबर्ग रिसर्च (Hindenburg Research) की रिपोर्ट को खारिज कर दिया है, जिसमें कंपनी पर फ्रॉड का आरोप लगाया गया है. ग्रुप का कहना है कि ऐसा अदाणी एंटरप्राइजेज के आने वाले FPO को नुकसान पहुंचाने की मंशा से किया गया है.

अदाणी ग्रुप के ग्रुप चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर जुगेशिंदर सिंह ने बुधवार को एक बयान में कहा, 'हम हैरान हैं कि हिंडनबर्ग रिसर्च ने 24 जनवरी, 2023 को हमसे संपर्क करने या तथ्यों को वेरिफाई करने की कोशिश किए बिना ही अपनी रिपोर्ट छाप दी'

जुगेशिंदर सिंह ने कहा कि रिपोर्ट 'चुनिंदा गलत सूचनाओं और बासी, आधारहीन और गलत आरोपों का एक पुलिंदा है, जिसे भारत की ऊंची अदालतों की ओर से खारिज किया जा चुका है.'

उन्होंने कहा कि 'ये रिपोर्ट, जो 27 जनवरी को अदाणी एंटरप्राइजेज लिमिटेड के FPO से पहले आई थी, साफतौर पर एक धोखा है, जिसका मकसद समूह की प्रतिष्ठा को ठेस पहुंचाना और आने वाले FPO को नुकसान पहुंचाना है'

सिंह ने कहा कि कई बड़ी बड़ी नेशनल और इंटरनेशनल क्रेडिट एजेंसीज और फाइनेंशियल एक्सपर्ट्स की ओर से तैयार की गई रिपोर्ट्स और उसकी डिटेल्ड एनालिसिस के आधार पर इनवेस्टर कम्यूनिटी का ग्रुप पर हमेशा से भरोसा रहा है.

'हमारे सूचित और जानकार निवेशक किसी निहित स्वार्थ वाले एकतरफा, प्रेरित और निराधार रिपोर्ट से प्रभावित नहीं होते'

जुगेशिंदर सिंह ने कहा कि समूह कॉर्पोरेट गवर्नेंस के उच्चतम मानकों को बनाए रखते हुए, अधिकार क्षेत्र की परवाह किए बिना हमेशा सभी कानूनों का पालन करता रहा है.

डिस्क्लेमर: अदाणी एंटरप्राइजेज, BQ Prime के मालिक क्विंटिलियन बिजनेस मीडिया लिमिटेड में 49% हिस्सेदारी हासिल करने की प्रक्रिया में है.

BQP Hindi
लेखकBQ डेस्क
BQP Hindi
फॉलो करें