Gautam Adani Interview: 22 राज्यों में अदाणी ग्रुप का निवेश, हर राज्य में BJP की सरकार नहीं - गौतम अदाणी

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बुलावे पर राजस्थान इनवेस्टर समिट में भी गए थे, बाद में राहुल गांधी ने भी खुद प्रेस कॉन्फ्रेंस कर के राजस्थान में उनके निवेश की सराहना की थी.
BQP Hindiमोहम्मद हामिद
Last Updated On  08 January 2023, 12:22 AMPublished On   08 January 2023, 12:14 AM
Follow us on Google NewsBQP HindiBQP HindiBQP HindiBQP HindiBQP HindiBQP HindiBQP HindiBQP HindiBQP HindiBQP Hindi

इंडिया TV के एडिटर-इन-चीफ रजत शर्मा के साथ कार्यक्रम 'आप की अदालत' में अदाणी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अदाणी (Adani Group's Chairman Gautam Adani ) ने इस बात से इनकार किया कि उनकी तरक्की सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ उनके करीबी रिश्तों की वजह से है. उन्होंने इस आरोप को भी सिरे से खारिज किया कि वो सिर्फ उन्हीं राज्य सरकारों के साथ काम करते हैं जहां BJP की सत्ता होती है.

"हम 22 राज्यों के साथ काम कर रहे हैं"

दुनिया के तीसरे सबसे रईस शख्स गौतम अदाणी ने सिर्फ BJP शासित राज्यों के साथ काम करने के आरोपों पर कहा कि वो हर राज्य में ज्यादा से ज्यादा निवेश करना चाहते हैं. अदाणी ग्रुप बहुत खुश है कि वो देश के 22 राज्यों के साथ मिलकर काम कर रहा है, और सभी राज्य BJP शासित नहीं हैं.

"गहलोत सरकार के साथ भी काम कर रहे हैं"

जिस राज्य में जो भी क्षमताएं हैं, अदाणी ग्रुप उस राज्य में विकास करने के लिए प्रतिबद्ध है. राजस्थान में अदाणी ग्रुप के 68,000 करोड़ रुपये के निवेश पर गौतम अदाणी ने बताया कि वो मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बुलावे पर राजस्थान इनवेस्टर समिट में भी गए थे, बाद में राहुल गांधी ने भी खुद प्रेस कॉन्फ्रेंस कर के राजस्थान में उनके निवेश की सराहना की थी.

बिडिंग के जरिए सारी चीजें मिलीं

गौतम अदाणी ने कहा कि हमने राजस्थान में अशोक गहलोत की सरकार से पहले की सरकार में ही बड़े पैमाने पर निवेश करने का फैसला किया था. अशोक गहलोत की सरकार ने हमें पावर प्रोजेक्ट के लिए जमीन दी. माइनिंग के लिए करार हुए, और ये सारी चीजें बिडिंग के जरिए हुई हैं. जो भी मदद की गई वो पॉलिसी के तहत ही की गई.

किसी सरकार के साथ कोई समस्या नहीं

उन्होंने कहा कि वो लेफ्ट शासित केरल, ममता बनर्जी के पश्चिम बंगाल, नवीन पटनायक के साथ ओडिशा के अलावा, जगनमोहन रेड्डी और केसीआर के साथ मिलकर भी उनके राज्यों में काम कर रहे हैं. गौतम अदाणी ने साफ किया कि उनकी किसी राज्य के साथ कोई समस्या नहीं है, वो सभी सरकारों के मिलकर काम कर रहे हैं.

इसलिए बयानबाजियां अपनी जगह हैं, लेकिन आप अगर गंभीर काम कर रहे हैं, और अपने वादे के मुताबिक हर राज्य में विकास कर रहे हैं, तो मुझे आजतक किसी भी सरकार के साथ कोई परेशानी नहीं हुई.

BQP Hindi
फॉलो करें